महिलाएं अपने बैग में कंडोम लेकर चलें कहने वाली नुसरत के फ़िल्मी सफर के बारे में जानिए

महिलाएं अपने बैग में कंडोम लेकर चलें कहने वाली नुसरत के फ़िल्मी सफर के बारे में जानिए

नुसरत भरुचा की नई फिल्म जनहित में जारी दस जून को रिलीज हो चुकी है। समीक्षक फ़िल्म के विषय के साथ नुसरत के अभिनय की भी तारीफें कर रहे हैं। इस फ़िल्म के माध्यम से जबरदस्त कलाकार अनुद सिंह ढाका ने बड़े पर्दे पर पदार्पण किया है। इस फ़िल्म में विजय राज़ और बृजेन्द्र काला जैसे मंझे हुए अभिनेता भी दम लगाते दिख रहे हैं।

फ़िल्म प्रमोशन के दौरान निरोध को लेकर फैलाई जागरूकता

‘जनहित में जारी’ के प्रमोशन के दौरान नुसरत फैन्स और भारतीय जनता को संदेश देते दिख रहीं हैं कि हमें कंडोम के बारे में खुलकर बातें करनी चाहिए। कुछ सालों पहले हम सेनेटरी नैपकिन या पैड्स के बारे में बात नही करते थे लेकिन अब यह थोड़ा सा नॉर्मल हो गया है।

वे कहतीं हैं कि महिलाएं सुरक्षित शारीरिक संबंध बनाने के लिए निरोध को अपने जीवन मे शामिल करें और इसे अपने पर्स में भी लेकर चलें। फ़िल्म का विषय भी कंडोम को लेकर जागरूकता फैलाना है।

2006 में आई जय संतोषी माँ थी पहली फ़िल्म

नुसरत भरुचा को लव रंजन की ‘प्यार का पंचनामा’ से बेहद पॉपुलैरिटी मिली थी। लोग मानते हैं कि यही उनकी पहली फ़िल्म थी जो कि गलत है। नुसरत भरुचा ने 2006 में आई ‘जय संतोषी माँ’ फ़िल्म से बड़े पर्दे पर पदार्पण किया था। यह एक धार्मिक फ़िल्म थी जो संतोषी माता के वैभव की बखान करती है। यह फ़िल्म 1970-80 के दशक में बनने वाली भक्ति फिल्मों की तरह लगती है।

कई मीडिया रिपोर्ट्स बताते हैं कि यह फ़िल्म बेहद कम बजट में बनी थी और कई थिएटर में खूब चली भी थी।

17 की उम्र में कर चुकी थी टीवी सीरियल

जय संतोषी मां जैसी फ़िल्म से नुसरत को कोई फायदा नही हुआ। उन्होंने उस फिल्म में सीरियल टाइप की बहू का किरदार निभाया था भला वैसी अभिनेत्री को कौन अपनी फिल्म में लेना चाहेगा। लेकिन संतोषी मां उनका पहला कार्य नही था। नुसरत इससे पहले 17 वर्ष की उम्र में टीवी सीरियल ‘किट्टी पार्टी’ का हिस्सा रह चुकीं थीं। किट्टी पार्टी में पूनम ढिल्लों जैसी अदाकारा लीड में थी। ज़ी टीवी में प्रसारित होने वाले इस धारावाहिक को नुसरत ने जल्दी ही छोड़ दिया। इसके बाद वे 2010 में यश राज फ़िल्मज़ द्वारा निर्मित टीवी शो ‘सेवन’ (Seven) में नज़र आईं।

राजकुमार राव के साथ ‘लव सेक्स और धोखा’ में कर चुकी हैं काम

इसी दौरान वे कई ऑडीशन देती रहती थी। नुसरत बताती हैं कि उनके परिवार वाले उन्हें फ़िल्म जगत में नही आने देना चाहते थे। नुसरत ने उन्हें मनाया और प्रिंट मीडिया के लिए मॉडलिंग शुरू कर दी। वहीं से उन्हें मॉडलिंग में मज़ा आने लगा। 2010 में दिबाकर बनर्जी कम बजट में एक प्रायोगिक फ़िल्म बना रहे थे। उस फाइंड फुटेज जेनर की फ़िल्म में वह नए कलाकारों को लेना चाहते थे। नुसरत ने ऑडिशन दिया और उनका चयन हुआ।

उनके साथ राजकुमार राव भी नज़र आये थे। ‘लव सेक्स और धोखा’ नाम की इस फ़िल्म ने खूब सुर्खियां बटोरीं थी।

2011 में पहली बार नज़र आई थी कार्तिक-नुसरत की जोड़ी

लव रंजन के साथ नुसरत की अब अच्छी बॉन्डिंग हो चुकी है जो 2010 से है। 2011 में नुसरत के करियर की पहली हिट फिल्म ‘प्यार का पंचनामा’ आयी। लव रंजन निर्देशित इस फ़िल्म में कार्तिक-नुसरत की जोड़ी लोगों को बहुत पसंद आई थी। लव रंजन ने अपनी अगली फिल्म ‘आकाशवाणी’ में फिर से इस जोड़ी को कास्ट किया लेकिन फ़िल्म नही चली। इसी दौरान नुसरत दो अन्य फ़िल्म ‘डर एट दी मॉल’ और ‘मेरठिया गैंगस्टर’ में नज़र आई। 2015 में लव रंजन प्यार का पंचनामा 2 लेकर आये जिसने कार्तिक और नुसरत दोनों को ही अपार सफलता दे दी।

दो फिल्मों में अक्षय के साथ स्क्रीन शेयर करेंगी

सोनू के टीटू की स्वीटी से नुसरत के करियर को ऐसी उड़ान मिली कि आज वे जनहित में जारी जैसी फ़िल्म को अपने कंधों पर लेकर चल रहीं हैं। उन्हें किसी बड़े सितारे की दरकार नही है। उसी फ़िल्म के कारण उन्हें कई अच्छी फिल्में मिली और आज के समय में वे खिलाड़ी कुमार के साथ दो फिल्में ‘राम सेतु’ और ‘सेल्फी’ कर रहीं हैं। नुसरत भरुचा अब ओटीटी में भी कदम रख चुकी हैं। उनकी ‘अजीब दासतान्स’ को दर्शकों का खूब प्यार मिला और ‘छुरी’ भी पसंद की गई। 37 वर्षीय नुसरत को मेहनत का फल मिला और आज वे बॉलीवुड की कई बड़ी फिल्मों का हिस्सा हैं।

Also Read

जानिए क्या है इंडिया के आयरनमैन मिलिंद सोमन की डाइट….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *